510-L, Model Town Ludhiana – 141002 (India)

बार-बार पेशाब आने के क्या है कारण, लक्षण और इलाज ?

Home  »  Urinary Problems   »   बार-बार पेशाब आने के क्या है कारण, लक्षण और इलाज ?
Categories
Urinary Problems

पेशाब का एक समय सीमा से ज्यादा आना किसी परेशानी से कम नहीं है। यदि आपको भी दिन में 8 से 10 बार पेशाब करने जाना पड़ता है, तो इस समस्या को हल्के में न ले बल्कि समय रहते डॉक्टर का चयन करें और साथ ही हम आपको बताएगे की बारबार पेशाब आने के क्या है लक्षण, कारण और उपाय ;

बारबार पेशाब आने के कारण क्या है ?

  • प्रोस्टेट का बढ़ना।

  • किडनी या यूरेट्रिक स्टोन का होना।

  • मूत्रमार्ग में इन्फेक्शन का होना।

  • डायबिटीज की समस्या।

  • अतिसक्रिय ब्लैडर का होना।

  • गर्भावस्था में बारबार मूत्र का आना।

बारबार पेशाब का आना क्या है ?

  • बारबार पेशाब अधिक मात्रा में पानी या अन्य तरल पदार्थ पीने से हो सकता है। परन्तु जब इन सभी कारणों की ग़ैरमौजूदगी में यह होता है, तब यह किसी गंभीर परेशानी का संकेत हो सकता है। यदि आप भी बारबार पेशाब आने की स्थिति से परेशान है तो इसके लिए आपको बेस्ट यूरोलॉजिस्ट लुधियाना का चयन करना चाहिए।

  • कुछ अनुभवी डॉक्टरों का कहना है कि इंसान दिन में लगभग 4 से 7 बार पेशाब करता है जिससे वो कुलमिलाकर केवल 2 से 3 लीटर पेशाब शरीर से बाहर निकाल देता है। परन्तु व्यक्ति दिन में 6 या 8 से अधिक बार पेशाब करने लगे और हर बार सामान्य से ज़्यादा पेशाब निकले तो उस स्तिथि में हम कह सकते हैं कि वह बारबार पेशाब आने की परेशानी से जूझ रहा है।

लक्षण क्या है बारबार पेशाब आने के ?

  • पेशाब को बिलकुल न रोक पाना।

  • पेशाब में खून का आना।

  • पेशाब करते वक़्त जलन या दर्द का महसूस होना।

  • पेट के निचले हिस्से और बगल में दर्द का होना।

  • पूरी तरह से ब्लैडर को खाली करने में नाकामयाब होना।

  • अचानक से पेशाब करने की तीव्र इच्छा का आना।

यदि अनेक बार पेशाब आने के लक्षण आपमें भी ऐसे ही दिख रहे है तो लुधियाना में पित्त पथरी की सर्जरी करवाने की सलाह डॉक्टर से जरूर ले।

बारबार पेशाब आने से निजात पाने का इलाज क्या है ?

  • यदि आपको अनेक बार पेशाब आने की वजह डायबिटीज है, तो “इंसुलिन थेरेपी” एक बेहतरीन इलाज है।

  • डाईयुरेटिक्स” का इलाज भी बारबार मूत्र आने की समस्या से निजात दिलवाता है।

  • अनेक बार मूत्र का आना मूत्राशय कैंसर का कारण भी हो सकता है, जिसके लिए “कीमोथेरेपी” एक बेहतरीन इलाज माना जाता है।

  • बारबार मूत्र आने की समस्या को रोकने के लिए कई बार डॉक्टर अन्य दवाइयां भी देते है।

  • इसके अलावा कुछ “घरेलू उपाय” भी बारबार मूत्र आने की समस्या को रोक सकते है जैसेकेले का सेवन, मेथी की पत्तियां, तिल का सेवन, चने का सेवन आदि।

यदि आप अनेक बार मूत्र आने की समस्या से परेशान है, तो इसके उपचार के लिए उपरोक्त बातों का खास ध्यान रखें और यदि आपने इसका इलाज सर्जरी के माद्यम से करवाना है तो इसके लिए आप आरजी स्टोन यूरोलॉजी एन्ड लेप्रोस्कोपी हॉस्पिटल का चयन करें।

निष्कर्ष :

समस्या कोई भी हो अगर उसके बारे में विस्तार से जानके हम उसका इलाज करवाते है, तो हमे जल्दी फर्क पड़ने लगता है। ठीक उसी प्रकार बारबार पेशाब आने की समस्या पर भी ये बात लागु होती है। तो आप अगर चाहते है की आपको अनेक बार आने वाले मूत्राशय की समस्या से निजात मिले तो इसके लिए आपको उपरोक्त बातो का खास ध्यान रखना है और साथ ही किसी भी तरह की दवाई को प्रयोग में लाने से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह ले।

Telephone Icon
whatsup-icon