510-L, Model Town Ludhiana – 141002 (India)

पथरी के कारण अगर आपके कमर में भी रहता है दर्द, तो जानिए क्या है इसके कारण, लक्षण व बचाव के तरीके?

Home  »  Hindi   »   पथरी के कारण अगर आपके कमर में भी रहता है दर्द, तो जानिए क्या है इसके कारण, लक्षण व बचाव के तरीके?
Categories
Hindi

किडनी में पथरी की समस्या हर मार्ग पर व्यक्ति के लिए बाधा बन कर सामने आ रही है, क्युकी इसके दर्द का सामना करना काफी मुश्किल होता है व्यक्ति के लिए। इसके अलावा पथरी के कारण व्यक्ति को और भी कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, वही पथरी के कारण अगर आपको कमर में दर्द की समस्या है तो जानेगे की इस दौरान व्यक्ति में और किस तरह के लक्षण नज़र आते है ;

किडनी में पथरी कैसे बनती है ?

  • पथरी जोकि मिनरल्स और नमक जैसे पदार्थो से बनी एक ठोस जमावट होती है, जो की आजकल बहुत ही आम समस्या हो गयी है और जिस वजह से कमर दर्द की भी समस्या बढ़ती जा रही है। 
  • आमतौर पर पथरी किडनी, मूत्रवाहिनी और मूत्राशय में देखी जाती है।

किडनी में पथरी के दौरान कमर दर्द के क्या लक्षण नज़र आते है ? 

  • पीठ में या पेट के पास असहनीय दर्द का सामना करना। 
  • दर्द के साथ बार-बार यूरीन आने की समस्या का सामना करना।                   पेशाब के साथ खून आने की समस्या का सामना करना। 
  • उल्टी आने की समस्या को झेलना। 
  • बदबूदार यूरीन का आना। 
  • बैठने में परेशानी का सामना करना। 
  • बुखार और ठंड का महसूस होना। 
  • किडनी और पेट में सूजन की समस्या का सामना। 
  • पेशाब करने पर जलन का महसूस होना। 

अगर आपको पथरी के दौरान यूरीन से संबंधित कोई समस्या है, तो इसके लिए आपको लुधियाना में बेस्ट यूरोलॉजिस्ट का चयन करना चाहिए।

पथरी होने के क्या कारण है ?

  • पारवारिक इतिहास इसके कारण में शामिल है। 
  • मोटापे को भी इसके कारण में हम शामिल कर सकते है। 
  • रक्त चाप का हाई होना। 
  • खानपान में प्रोटीन और सोडियम अधिक मात्रा में होना और कैल्शियम की मात्रा में कमी का आना। 
  • व्यायाम की कमी भी इसके कारण में शामिल है। 

पथरी के कारणों को जानकर आप लुधियाना में गुर्दे की पथरी की सर्जरी से खुद का बचाव कर सकते है।

पथरी के कारण हो रहें दर्द की समस्या से बचाव !

  • अगर आपको पथरी के कारण कमर दर्द की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो इससे बचाव के लिए आपको गर्म सिकाई का चयन करना चाहिए। वहीं आप इस सिकाई को कमर के निचले हिस्से में करते है या प्रभावित हिस्से में करते है तो आपको दर्द से काफी आराम मिलता है। 
  • किडनी में पथरी होने की वजह से अगर आपके कमर में भी काफी दर्द की समस्या रहती है, तो इस दर्द से राहत पाने के लिए आप तुलसी का सेवन कर सकते है। इसको बनाने के लिए आप एक बड़े चम्मच तुलसी के जूस को और शहद को एक गिलास पानी में मिलाएं और इसका सेवन करें। ऐसा करने से आप पथरी के कारण कमर दर्द की समस्या से भी छुटकारा पाने में सक्षम हो पाते है।
  • पानी का सेवन पथरी के मरीजों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, इसलिए किडनी में पथरी की समस्या से राहत पाने के लिए पानी को खूब पिए। वहीं पानी किडनी में पथरी को घोलने में काफी मदद करते है, जिससे यह आसानी से निकल जाएं। इसलिए दिन में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी का सेवन आपको जरूर करना चाहिए 
  • पथरी के मरीजों को ग्रीन टी का खूब सेवन करना चाहिए, ऐसा इसलिए क्युकि इसमें ड्यूरेटिक प्रोपर्टीज होती है, जो कि किडनी की पथरी को घोलने में मदद करती है और साथ ही पथरी के दर्द को भी कम करती है। इसलिए आप एक चम्मच ग्रीन-टी को एक कप पानी में उबाल कर छान लें और इसका रोज सेवन करें। कम से कम दिन में 2 कप ग्रीन-टी का सेवन करें। ऐसा करने से पथरी के कारण जो कमर दर्द की समस्या होती है, उससे आप राहत पा सकते है।
  • नींबू भी पथरी के मरीजों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, वहीं नींबू में सिट्रस और एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते है, जो की किडनी में पथरी को ख़त्म करने में मदद करते है। इसलिए रोजाना नियमित रूप से एक गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़ कर इसमें थोड़ा शहद मिला लें और इसका सेवन दिन में कम से कम दो बार जरूर करें। 

पथरी से बचाव के लिए बेस्ट हॉस्पिटल !

आप चाहे तो पथरी का इलाज उपरोक्त उपायों की मदद से भी कर सकते है या फिर अगर आपको पथरी के कारण बहुत ज्यादा कमर में दर्द की समस्या है, तो इससे बचाव के लिए आप आरजी स्टोन यूरोलॉजी और लेप्रोस्कोपी हॉस्पिटल से जरूर संपर्क करें।

Telephone Icon
whatsup-icon